IIT Gandhinagar | Admission | M. Tech.
   
  होम | संपर्क | प्रतिपुष्टि | स्थान मानचित्र

Language: English | हिंदी
 
HomeAdmission M. Tech.

एम.टेक.

भा.प्रौ.सं. गाँधीनगर 2014-2015 वर्ष के लिए रासायनिक, सिविल, विद्दुत, यांत्रिकी तथा सामग्री विज्ञान व अभियांत्रिकी में एम.टेक. प्रोग्राम के आवेदन के लिए आमंत्रित करता है। भा.प्रौ.सं. गाँधीनगर में एम.टेक पाठ्यक्रम को अन्तरविषयक कौशल और उच्चतर गुणवत्ता शोध कार्य पर ज़ोर देने के साथ उच्च सृजनशील होने के लिए डिज़ाइन किया है। भा.प्रौ.सं. गाँधीनगर की अभियांत्रिकी मे स्नातकोत्तर डिप्लोमा (पीजीडीआइआइटी) में एक विकल्प भी प्रदान करता है जो बिना शोध की ज़रूरत के एक वर्ष के प्रशिक्षण कोर्स-कार्य कार्यक्रम की तरह डिजाइन किया गया है।

विषय

  • रासायनिक अभियांत्रिकी (शोध-क्षेत्रः नैनोटेक्नोलॉजी, कोलाइड्स व इन्टरफेस, रासायनिक प्रतिक्रिया अभियांत्रिकी, सेपरेशन प्रोसेस, पॉलिमर, प्रासेस कन्ट्रोल)
  • सिविल अभियांत्रिकी (शोध क्षेत्रः संरचनात्मक अभियांत्रिकी, जियोटेक्नोलॉजी अभियांत्रिकी व जल-संसाधन अभियांत्रिकी)
  • विद्युत अभियांत्रिकी (शोध क्षेत्रः माइक्रो-इलेक्ट्रोनिक्स, सिगनल प्रासेसिंग, फाइबरऑप्टिकल्स, पावर सिस्टम्स कंट्रोल सिस्टम, इलेक्ट्रानिकल मशीन्स, वीएलएसआइ डिज़ाइन, जैव चिकित्सीय अभियांत्रिकी)
  • सामग्री विज्ञान एवं अभियांत्रिकी (शोध क्षेत्रः मेटलर्जी, नैनोमैटेरियल्स, जैव सामग्री)
  • यांत्रिकी अभियांत्रिकी (शोध क्षेत्रः थर्मल विज्ञान व अभियांत्रिकी, डाईनामिक्स एवं कंट्रोल, सोलिड मेकेनिक्स)

न्यूनतम पात्रता मानदंड

  • बी.ई/बी.टेक या इसके समान उपयुक्त ब्रांच में कम से कम 55प्रतिशत अंक (अनु.जाति/अनु.ज.जाति के लिए 50 प्रतिशत अंक)
  • जिन उम्मीदवारों के वैध गेट स्कोर (साक्षात्कार/लिखित टेस्ट के समय) हैं वे एम.टेक के आवेदन के लिए योग्य हैं। एम.टेक में पार्टटाइम या पीजीडीआइआइटी कार्यक्रम में आवेदन के लिए गेट की आवश्यकता नहीं है।
  • 8.0 या ज़्यादा के स्केल पर (10 के स्केल में) सीजीपीए/सीजीआईके साथ गेटे में प्रवेश के बिना भा.प्रौ.सं. गाँधीनगर के बी.टेक स्नातक में दाखिले के लिए योग्य हैं।
  • सामान्य एम.टेक कार्यक्रम के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार को और जिन्हें उनके नियुक्ता ने प्रायोजित किया है, गेट के स्कोर की ज़रूरत नहीं और उन्हें प्रायोजित उम्मीदवार माना जाएगा यदि (क) उम्मीदवार 2 वर्षों से ज़्यादा समय से नौकरी में है (ख) नियुक्ता ने 2 वर्षों का अध्ययन-अवकाश, प्रदान किया हो (ग) नियुक्ता पुरे दो वर्षों के लिए उम्मीदवारी लेता है। उपर्युक्त बताए गए पात्रता मानदंड न्यूनतम हैं और चयन के लिए उच्चतर कट-ऑफ स्तर प्रयोग कर सकता है। अनु.जाति/अनु.ज.जाति/विकलांगता श्रेणियों के उम्मीदवार चयन मानदंड में मानक के अनुसार छूट के हकदार होंगे।

कार्यक्रम की आवश्यकताएँ

भा.प्रौ.सं. गाँधीनगर एम.टेक कार्यक्रम कार्य तथा शोध-निबंध/थिसिस दोनों पर बहुत जोर देता है।जब कि डीआइआइटी कार्यक्रम सिर्फ पाठ्यक्रम कार्य पर जोर देता है। एम.टेक डिग्री पाने के लिए थिसिस अनिवार्य है। यह उम्मीद की जाती है कि शिसिस का परिणाम उच्च स्तर के विद्वतापूर्ण प्रकाशन तथा राष्ट्रीय और अन्तर्रार्ष्ट्रीय सम्मेलन प्रस्तुती में हो। डीआइआइटी डिग्री के लिए थिसिस की आवश्यकता नहीं है।

  • चार सत्र का पूर्ण आवासीय कार्यक्रम (कुछ मामलों में इसे पूरा करने में ज़्यादा समय लग सकता है, यह थिसिस कार्य की प्रगति पर आधारित है)।
  • पाठ्यक्रम कार्य व थिसिस में कुल न्यूनतम 80 क्रेडिट्स

पाठ्यक्रम कार्य

  • पाठ्यक्रम कार्य का 32-48 क्रेडिट्स (8-12 कोर्स के बराबर)
  • 3 व्याख्यान का एक खास पाठ्यक्रम प्रति सप्ताह में 4 क्रेडिट दिए जाते हैं
  • पाठ्यक्रम में निम्नलिखत चीजें शामिल हैं-
    • - मानविकी, समाज विज्ञान और प्रबंधन पाठ्यक्रम - न्यूनतम 6 क्रेडिट
    • - सामान्य संस्थान पाठ्यक्रम- न्यूनतम 6 क्रेडिट
    • - मूल अभियांत्रिकी पाठ्यक्रम- न्यूनतम 6 क्रेडिट
    • - विभागीय कोर व इलेक्टिव पाठ्यक्रम- ज़रूरत के क्रेडिट का संतुलन
  •  सामान्यतः प्रथम तीन सेमेस्टर पर विस्तार

थिसिस

  • थिसिस कार्य का 32-48 (प्रत्येक 4 क्रेडिट के 18-12 पाठ्यक्रम के बराबर), शोध-विषयक, विकासक या एक औद्योगिक रूप में सम्बद्ध विषय हो सकता है।
  • जमा करने के लिए कोई अंतिम तिथि के बिना ओपेन थिसिस यूनिट
  • प्रत्येक पंजीकृत किए थिसिस यूनिट को एस (संतोषजनक) या यू (असंतोषजनक) ग्रेड दिए जाएँगे
  • एसपीआई/सीजीआई की गणना के लिए थिसिस यूनिट के ग्रेड को नहीं गिना जाएगा।
  • एम.टेक डिग्री के लिए उम्मीदवारों को थिसिस वर्क को संतोष पूर्ण ढंग से पूरा करना चाहिए और इसके लिए 48 से ज़्यादा शोध क्रेडिट की ज़रूरत हो सकती है।

एम.टेक कार्यक्रम में निरन्तरता

  • एक छात्रको पाठ्यक्रम कार्य के प्रत्येक सत्र के अन्त में 5.5 के न्यूनतम एसपीआई तथा 6.0 के न्यूनतम सीपीआई को निर्वाह करना चाहिए।
  • एक छात्र के प्रोजेक्ट में 3 यू ग्रेड से ज़्यादा नहीं होना चाहिए।
  • पूर्णकालीन एम.टेक छात्रों को डिग्री पाने में अधिकतम 3 वर्ष लगेंगे।

एक टिपिकल एम.टेक कार्यक्रम के ढांचे का प्रारूप

सत्र

मानविकी व सामाजिक विज्ञान पाठ्यक्रम

सामान्य संस्थान पाठ्यक्रम

मूल अभियांत्रिकी पाठ्यक्रम

विभागीय मूल व चुना गया पाठ्यक्रम

थिसिस

कुल पाठ्यक्रम के समतुल्य

क्रेडिट

I

1

2

1

1

-

5

20

II

1

-

1

2

1

5

20

III

-

-

-

1

4

5

20

IV

-

-

-

-

5

5

20

 

एम.टेक (पार्ट-टाइम आधार) कार्यक्रम

  • विषयः रासायनिक अभियांत्रिकी, सिविल अभियांत्रिकी, विद्युत अभियांत्रिकी, सामग्री विज्ञान व अभियांत्रिकी तथा यांत्रिकी अभियांत्रिकी
  • 2 सत्र कार्यक्रम (यह ज़्यादा समय ले सकता है, जो कि पाठ्यक्रम समाप्ति पर आधारित है)
  • पाठ्यक्रम में कुल न्यूनतम 32-48 क्रेडिट (वास्तविक न्यूनतम क्रेडिट व्यक्तिगत विषयों द्वारा निर्धारित)
  • प्रति सप्ताह 3 व्याख्यान के एक खास पाठ्यक्रम में चार क्रेडिट दिए जाते हैँ

वित्तीय सहायता

पूर्णकालीन एम.टेक कार्यक्रम में दाखिला लिए वांछित उम्मीदवारों को रु.8000 की मासिक छात्रवृत्ति मिलेगी। पार्टाइम आधार पर पीजीडीआइआइटी/एम.टेक के छात्रों को कोई भत्ता नहीं मिलेगा।

यात्रा छात्रवृत्ति

संस्थान एम.टेक छात्रों को राष्ट्रीय व अन्तर्रार्ष्ट्रीय सम्मेलनों में अपना शोध-कार्य पेश करने के लिए प्रोत्साहित करता है, और ऐसे छात्रों को रु.60000 तक यात्रा-छात्रवृत्ति प्रदान करता है।

अन्तरिम प्रवेश

विषय अन्तरिम प्रवेश
रासायनिक अभियांत्रिकी
40
सिविल अभियांत्रिकी
40
विद्युत अभियांत्रिकी
40
सामग्री विज्ञान व अभियांत्रिकी
40
यांत्रिकी अभियांत्रिकी
40

"कुल उपलब्ध सीटों पर श्रेणीबद्ध आरक्षण भारत सरकार के मान के अनुसार होगा"

प्रवेश प्रक्रिया

प्रवेश साधारणतया लिखित परीक्षा और साक्षात्कार के आधार पर होता है। यह संस्थान शैक्षणिक रिकार्ड या गेट स्कोर के आधार पर लिखित परीक्षा तथा साक्षात्कार के लिए सीमित संख्या में उम्मीदवारों को आमंत्रित करता है। यह संस्थान उपलब्ध सूचना के आधार पर उम्मीदवारों की योग्यता स्तर के प्रयोग करने के अधिकार को सुरक्षित रखता है। अंतिम चयन भी उपर्युक्त बातों पर आधारित होगा, शैक्षणिक रिकार्ड, गेट-स्कोर, लिखित परीक्षा और साक्षात्कार परीक्षा के लिए बुलाए बिना भी, शैक्षणिक रिकार्ड और/या गेट पर आधारित कुछ असाधारण उम्मीदवारों को प्रवेश देने के विकल्प का प्रयोग कर सकता है।

साधारणतया लिखित परीक्षा सामान्य अभिरूचि के विषय से सम्बन्धित (तार्किक विवेक, विश्लेषणात्मक और संख्यासूचक योग्यता, इत्यादि), अभियांत्रिकी गणित, और अवरस्नातक कार्यक्रम के तीसरे वर्ष तक के विभिन्न विषयों के मूल पाठ्यक्रम पर आधारित होता है। जो उम्मीदवार लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं होता वह साक्षात्कार में शामिल नहीं होता। आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को मानक के अनुसार कट ऑफ अंक में छूट दी जायेगी।

परीक्षा व साक्षात्कार के लिए बुलाए गए उम्मीदवारों को उनके निवास स्थान से इस संस्थान/परीक्षा-स्थल/साक्षात्कार तक आने के लिए एकल द्वितीय स्लीपर श्रेणी के किराए की राशि रु.600 से ज़्यादा होने पर उसका भुगतान किया जाएग। उदाहरण के लिए, कुल रु.1400/- के रेलवे किराए के मामले में, उम्मीदवार को रु.800/- दिए जाएँगे। इस दावे के समर्थन में प्रमाण (रेलवे टिकट) पेश करना पङता है।

महत्वपूर्ण तिथियाँ

Phase I
आवेदन-पत्र जमा करने की अंतिम तिथि - 20 फरवरी 2014
चयनित उम्मीदवारों की वेब घोषणा (अस्थाई) साक्षात्कार के लिए - 28 फरवरी 2014

परीक्षा तथा/या साक्षात्कार

रासायनिक अभियांत्रिकी

04 अप्रैल 2014

सिविल अभियांत्रिकी

06 अप्रैल 2014

विद्युत अभियांत्रिकी

05 अप्रैल 2014

सामग्री विज्ञान व अभियांत्रिकी

06 अप्रैल 2014

यांत्रिकी अभियांत्रिकी

07 अप्रैल 2014

वेबसाइट पर परिणाम की घोषणा - 18 अप्रैल 2014
शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख - 12 मई 2014
फेज II
आवेदन-पत्र जमा करने की अंतिम तिथि - 12 अप्रैल 2014
चयनित उम्मीदवारों की वेब घोषणा (अस्थाई) साक्षात्कार के लिए - 22 अप्रैल 2014

परीक्षा तथा/या साक्षात्कार

रासायनिक अभियांत्रिकी

25 मई 2014

सिविल अभियांत्रिकी

19 मई 2014

विद्युत अभियांत्रिकी

17 मई 2014

सामग्री विज्ञान व अभियांत्रिकी

18 मई 2014

यांत्रिकी अभियांत्रिकी

20 मई 2014

वेबसाइट पर परिणाम की घोषणा - 30 मई 2014
शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख - 20 जून 2014

नोटः:

  1. 21 फरवरी 2014 और 12 अप्रैल 2014 के मध्य मिले सभी आवेदन-पत्रों पर फेज 1 के बाद उपलब्ध बाकी सीटों के लिए विचार किया जाएगा।
  2. एम.टेक कार्यक्रम के लिए चयनित आवेदन पत्र लिखित परीक्षा/साक्षात्कार के लिए प्रवेश पाने के लिए तभी वांछनीय हैं, जब उनका गेट स्कोर चयनित होते समय विषय के लिए न्यूनतम कट ऑफ से ज़्यादा हैं, अन्य चयनित उम्मीदवार सिर्फ पीजीडीआइआइटी के लिए लिखित परीक्षा/साक्षात्कार के लिए वांछनीय होंगे।

आवेदन प्रक्रिया

सभी आवेदन ऑनलाइन ही जमा किए जाएं। अगर आप एक से ज़्यादा विषय के लिए आवेदन कर रहे हैं तो कृपया प्रत्येक विषय के लिए एक अलग आवेदन पत्र जमा करें। जमा किए आवेदन-पत्र की सॉफ्ट प्रतिलिपि दिए गए ईमेल आईडी पर भेजी जाएगी। आपको आवेदन-पत्र की हार्ड प्रतिलिपि को साक्षात्कार के समय फोटोग्राफ और सभी मौलिक दस्तावेज प्रमाण(प्रमाण-पत्र प्रकाशन, काम का अनुभव और शोध/पेशेगत अनुभव)के साथ जमा करने की ज़रूरत है। अपूर्ण आवेदन अस्वीकृत किए जाएँगे।

  • - यहाँ कोई आवेदन शुल्क नहीं है
  • - आपको आवेदन-पत्र की हार्ड प्रतिलिपि भेजने की ज़रूरत नहीं है

भा.प्रौ.सं. गाँधीनगर में एम.टेक कार्यक्रम (जुलाई 2014 में शुरू होने वाले सत्र के लिए) के लिए आवेदन पत्र बंद हो गया है। दूसरे चक्र के प्रवेश जनवरी 2015 में आरम्भ किए जाएँगे।

इसके अलावा जानकारी के लिए आप हमसे academics@iitgn.ac.in पर सम्पर्क कर सकते हैं।